alu vadi

पात्रा

यूपी में अरबी के पत्तों के पकोड़े, गुजरात में पात्रा, महाराष्ट्र में आलू वडी, चाहे इस डिश को किसी भी नाम से  पुकारो, खाने में यह लाजवाब है |😋

पात्रा एक स्वादिष्ट और healthy snacks है | इसे सुबह के नाश्ते में, बच्चों के टिफिन में, पार्टी में, कोई मेहमान आए तब, शाम की चाय के साथ या फिर खाने के साथ कभी भी किसी भी वक्त खाया जा सकता है | इसे चाय के साथ या चटनी के साथ परोसा जा सकता है | अगर आपको यह snack पार्टी में सर्व करना है तो आप 1 दिन पहले भी  इसकी  तैयारी कर के रखना चाहे तो रख सकते हैं | 1 दिन पहले तैयार करने के लिए रोल्स को उबालकर उन्हें फ्रिज में  स्टोर करें और अगले दिन रोल्स को काट कर उस पर तड़का मारकर गरमा-गरम मेहमानों को परोसे |

यह अरबी के पत्तों से बनता है | अरबी के पत्तों पर हल्के खट्टे-मीठे बेसन के घोल को फैलाते हैं और फिर पत्तों को रोल करके उसे भाप में 20 से 25 मिनट तक पकाते हैं | फिर रोल को छोटे-छोटे टुकड़ों में काटकर उसपर राई और तिल का तड़का डालते हैं | पात्रा को फ्राई करके भी बनाया जाता है लेकिन फ्राई करके इसकी गुणवत्ता को क्यों कम किया जाए जब यह उबला हुआ भी बहुत स्वादिष्ट लगता है | अरबी के पत्तों से  गले में खराश हो सकती है तो इसलिए पात्रा में खटाई डाली जाती है तो खटास के लिए हमने इस रेसिपी में इमली के पल्प का इस्तेमाल किया है |

पात्रा बनाने की प्रक्रिया को देख कर लगता है की पात्रा बनाना थोड़ा मुश्किल है पर ऐसा बिल्कुल भी नहीं है | पत्ते पर लगे हुए बेसन की परत की वजह से बहुत आसान हो जाता है पत्ते को रोल करना | इसे एक बार जरूर ट्राई कीजिए |अपने दोस्तों और फैमिली को खिलाइए निसंदेह उन्हें पात्रा खूब पसंद आएगा और आपकी जेब पक्का तारीफों से ना केवल भर जाएगी बल्कि ओवरफ्लो करेगी |😁😉

चलिए देखते हैं पात्रा बनाने की विधि

एक बाउल में बेसन ले | बेसन में लाल मिर्च पाउडर, हल्दी पाउडर, धनिया पाउडर, नमक, इमली का पल्प, अदरक-हरी मिर्च का पेस्ट और गुड डालें | अब थोड़ा-थोड़ा करके पानी डालें और एक गाढ़ा घोल तैयार करें | 

अरबी के पत्ते लें और उन्हें हल्के हाथों से धोले | धोए हुए पत्तों को सूखने के लिए रख दें या फिर किसी कपड़े से उन्हें पोछ ले |

अरबी के पत्तों के डंठल को काट ले |

पत्ते की चिकनी सतह को नीचे की तरफ रखिए जैसा के चित्र में दर्शाया गया है | अब पूरे पत्ते पर बेसन का घोल फैलाए |

अरबी का दूसरा पत्ता ले और वह पहले पत्ते के ऊपर रखें | दूसरे पत्ते की नोक पहले पत्ते की नोक के दूसरी ओर रखें | अब दूसरे पत्ते पर भी बेसन का लेप लगाए |

यह प्रक्रिया दो और पत्तों के साथ दोहराए |

अब पत्तों को चारों और से मोड़ ले | मोड़ते वक्त इस पर थोड़ा-थोड़ा बेसन का घोल लगाए | बेसन का घोल लगाने से चारों कोने आसानी से चिपक जाएंगे और रोल बनाने में आसानी होगी | 

चारों कोनों को मोड़ने के बाद अरबी के पत्तों का रोल बनाएं | रोल के ऊपर भी थोड़ा सा बेसन लगाए | इसी प्रकार अरबी के पत्तों से बाकी रोल भी तैयार कर ले |

अरबी के पत्तों के रोल को स्ट्रीमर में रखें | 20 से 25 मिनट तक स्टीम करें | 

अरबी के पत्तों के अंदर का बेसन अगर पक गया है और हल्का सख्त हो गया है तो मतलब आपका पात्रा अच्छे से स्टीम हो गया है | इसे चेक करने के लिए आप चाकू को भी रोल में डाल कर देख सकते हैं | अगर चाकू पर गीला बेसन नहीं चिपका तो मतलब आपका रोल काटने के लिए तैयार है |  

जब आपको लगे कि आपके रोल पक कर तैयार है तो उसे एक प्लेट में निकाल लीजिए और ठंडा होने के बाद रोल को छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लीजिए |

एक पैन में तेल गर्म करने के लिए रखें | तेल गरम होने के बाद राई डालें | राई को तड़कने दे | फिर तिल डाले | तिल के हल्का सा सुनहरा लाल होने के बाद हींग और करी पत्ता डालें अच्छे से मिलाएं |

पात्रा डालें 1-2 मिनट तक पकाए | पात्रा तैयार है |

इसे कसा हुआ नारियल और हरे धनिए से गार्निश करें | गरमा-गरम चाय या चटनी के साथ परोसे |

पात्रा

Course Snack
Cuisine Indian
Prep Time 20 minutes
Cook Time 40 minutes
Total Time 1 hour
Servings 2
Author Rashi Pranav Chourasia

Ingredients

अरबी के पत्ते- 12

बेसन- 1 कप

लाल मिर्च पाउडर- 1 छोटी चम्मच

हल्दी पाउडर- 1/3 छोटी चम्मच

धनिया पाउडर- 2 छोटी चम्मच

अदरक, हरी मिर्च का पेस्ट- 1 बड़ा चम्मच

इमली का पल्प- 2 बड़े चम्मच

गुड- 2 बड़े चम्मच

नमक स्वाद अनुसार

तेल- 2 बड़े चम्मच

राई- 1 छोटी चम्मच

तिल- 1 छोटी चम्मच

हींग- 1/2 छोटी चम्मच

करी पत्ता- 10-15

गार्निशिंग के लिए- कसा हुआ नारियल और हरा धनिया

Instructions

एक बाउल में बेसन ले | बेसन में लाल मिर्च पाउडर, हल्दी पाउडर, धनिया पाउडर, नमक, इमली का पल्प, अदरक-हरी मिर्च का पेस्ट और गुड डालें | अब थोड़ा-थोड़ा करके पानी डालें और एक गाढ़ा घोल तैयार करें |

अरबी के पत्ते लें और उन्हें हल्के हाथों से धोले | धोए हुए पत्तों को सूखने के लिए रख दें या फिर किसी कपड़े से उन्हें पोछ ले |

अरबी के पत्तों के डंठल को काट ले | पत्ते की चिकनी सतह को नीचे की तरफ रखिए जैसा के चित्र में दर्शाया गया है | अब पूरे पत्ते पर बेसन का घोल फैलाए |

अरबी का दूसरा पत्ता ले और वह पहले पत्ते के ऊपर रखें | दूसरे पत्ते की नोक पहले पत्ते की नोक के दूसरी ओर रखें | अब दूसरे पत्ते पर भी बेसन का लेप लगाए | यह प्रक्रिया दो और पत्तों के साथ दोहराए |

अब पत्तों को चारों और से मोड़ ले | मोड़ते वक्त इस पर थोड़ा-थोड़ा बेसन का घोल लगाए | बेसन का घोल लगाने से चारों कोने आसानी से चिपक जाएंगे और रोल बनाने में आसानी होगी |

चारों कोनों को मोड़ने के बाद अरबी के पत्तों का रोल बनाएं | रोल के ऊपर भी थोड़ा सा बेसन लगाए | इसी प्रकार अरबी के पत्तों से बाकी रोल भी तैयार कर ले |

अरबी के पत्तों के रोल को स्ट्रीमर में रखें | 20 से 25 मिनट तक स्टीम करें | अरबी के पत्तों के अंदर का बेसन अगर पक गया है और हल्का सख्त हो गया है तो मतलब आपका पात्रा अच्छे से स्टीम हो गया है | इसे चेक करने के लिए आप चाकू को भी रोल में डाल कर देख सकते हैं | अगर चाकू पर गीला बेसन नहीं चिपका तो मतलब आपका रोल काटने के लिए तैयार है |

जब आपको लगे कि आपके रोल पक कर तैयार है तो उसे एक प्लेट में निकाल लीजिए और ठंडा होने के बाद रोल को छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लीजिए |

जब आपको लगे कि आपके रोल पक कर तैयार है तो उसे एक प्लेट में निकाल लीजिए और ठंडा होने के बाद रोल को छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लीजिए | एक पैन में तेल गर्म करने के लिए रखें | तेल गरम होने के बाद राई डालें | राई को तड़कने दे | फिर तिल डाले | तिल के हल्का सा सुनहरा लाल होने के बाद हींग और करी पत्ता डालें अच्छे से मिलाएं |

पात्रा डालें 1-2 मिनट तक पकाए | पात्रा तैयार है | इसे कसा हुआ नारियल और हरे धनिए से गार्निश करें | गरमा-गरम चाय या चटनी के साथ परोसे |

Recipe Notes

अरबी के पत्ते छोटे और बड़े दोनों आकार के मार्केट में मिलते हैं | मैंने छोटे पत्ते लिए हैं इसीलिए एक रोल में 4 पत्तों का प्रयोग किया है | अगर आप अरबी के बड़े पत्तों का पात्रा बनाने में इस्तेमाल कर रहे हैं तो एक या दो पत्तों से भी आप रोल को तैयार कर सकते हैं |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *